https://khulasafirst.com/images/eceb0ef7616e803d2e768e2be8e121f2.jpg

Hindi News / nation / The structure was broken due to Mulayam tough stand

मुलायम के सख्त रूख से टूटा था ढांचा : राजगढ़ जैसे छोटे शहर के बाबा सत्यनारायण मौर्य ने आंदोलन में निभाई बड़ी भूमिका

05-08-2022 : 04:05 pm ||

खुलासा फर्स्ट… इंदौर

राम मंदिर आंदोलन में एक प्रमुख नाम बाबा सत्यनारायण मौर्य का भी है, जो आंदोलन से 1985 से जुड़े और आंदोलित करने वाले नारों को जन्म दिया। राजगढ़-ब्यावरा जैसे छोटे शहर से आए और मंदिर आंदोलन में शामिल हुए। दीवारों पर राम मंदिर के लिए नारे लिखने और चित्र उकेरने वाले बाबा मौर्य ने बताया कि राम मंदिर बनाने का काम शुरू किया जाना था। एक कोने से शुरू कर उसे राम जन्मभूमि तक बनाना था। 


बाबरी मस्जिद ढांचे को ढहाने का कोई इरादा नहीं था, लेकिन जन आंदोलन में जनमानस की भावनाएं काफी तीव्र थी और कांग्रेस सरकार 4 दिसंबर को इलाहाबाद कोर्ट में मंदिर निर्माण के मामले में निर्णय को आगे बढ़ाना चाहती थी। कोर्ट ने मामले में 11 दिसंबर को फैसला देने का निर्णय दिया, लेकिन जनमानस आंदोलित था। कई बार अयोध्या में कार सेवा का सपना संजोए लोग अब रुकने वाले नहीं थे। आदेश के बाद मुख्यमंत्री मुलायम सिंह ने भी कार सेवा को रोकने की ठान ली थी। कारसेवकों पर गोलियां चलाने की बात करने लगे, लेकिन भक्तों को रोकना मुश्किल था।


भारत महान क्यों... इतिहास सामने लाना है

बाबा मौर्य ने बताया कि अब एक लक्ष्य को और पूरा करना है। देश के इतिहास को सामने लाना है कि भारत जगतगुरु क्यों था, क्यों भारत महान था। देश में जो इतिहास पढ़ाया जा रहा है, उसमें भारत के महान प्रतापी राजाओं का विस्तृत वर्णन नहीं है। भारत ने दशमलव दिया, पायथोगोरस थ्योरी दी, लेकिन हमें इस विषय में क्यों नहीं बताया जाता?


पत्रकार भी रहे हैं बाबा मौर्य... 

राम पर बनाई पेंटिंग सिरीज

बाबा मौर्य पांच साल तक पत्रकार के रूप में जी न्यूज से जुड़े रहे और धार्मिक कार्यक्रमों की शुरूआत की। विश्व भर में भारत माता की आरती के साथ राम मंदिर के आंदोलन को रंगों के जरिए प्रदर्शित करत हैं। अपने हाथों से कैनवास पर रंग उकेर कर जगह-जगह प्रदर्शनी लगाते हैं। इसी परिप्रेक्ष्य में अब अयोध्या में भी भूमिपूजन के दौरान प्रदर्शनी लगाने की तैयारी पूरी की है, जिसमें राम मंदिर, राम जन्मभूमि के संघर्ष का घटनाक्रम और आंदोलन में प्रमुख भूमिका निभाने वालों का वर्णन होगा। 

- (जैसा हरीश बरोनिया को बताया)


All Comments

No Comment Yet!!


Share Your Comment


टॉप न्यूज़