https://khulasafirst.com/images/8bccbd4349e5b69f665c43b6f89c41ff.jpg

Hindi News / sports / Sharat golden boy shuttle punch also golden

शरत गोल्डन बॉय, शटल-पंच भी सुनहरी : बर्मिंघम कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 में 61 मेडल

09-08-2022 : 04:05 pm ||

खुलासा फर्स्ट डेस्क

22वें कॉमनवेल्थ गेम्स खत्म हो गए हैं। भारत ने इस बार कुल 61 मेडल पर कब्जा किया। इस बार 2018 के मुकाबले पांच मेडल कम मिले, लेकिन शूटिंग का खेल नहीं होने से यह गिरावट आई। मेडल में करीब एक तिहाई यानी 22 गोल्ड, 16 सिल्वर और 23 ब्रोंज है, जिस कारण भारत मेडल टेली में चौथे स्थान पर रहा। टेबल टेनिस खिलाड़ी शरत कमल तीन गोल्ड सहित चार मेडल प्राप्त कर सबसे ज्यादा मेडल जीतने वाले भारतीय खिलाड़ी बने। खेलों के अंतिम दिन भारत को कुल पांच गोल्ड मेडल मिले, जिसमें से तीन तो बेडमिंटन में हासिल हुए। भारत की पीवी सिंधू, लक्ष्य सेन और सात्विक सांईराज व चिराग शेट्टी ने गोल्ड पर कब्जा जमाया तो शरत कमल ने टेबल टेनिस में गोल्ड जीता। रविवार को भी भारत ने पांच गोल्ड मेडल जीते थे। इस प्रकार अंतिम दो दिनों में भारत ने दस गोल्ड मेडल जीते।


सबसे ज्यादा मेडल कुश्ती में

बर्मिंघम कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 में भारत की झोली में सबसे अधिक मेडल कुश्ती और वेटलिफ्टिंग प्रतियोगिता से आए। भारत 18वीं बार इन खेलों में हिस्सा ले रहा था और इसमें कुल 104 पुरुष और 103 महिलाओं ने हिस्सा लिया। भारत के लिए पुरुषों ने 35 और महिलाओं ने 26 मेडल अपने नाम किए। कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 में सबसे अधिक भारत को 12 मेडल रेसलिंग में हासिल हुए। इस खेल में भारत के पहलवानों ने कुल 6 गोल्ड, एक सिल्वर और 5 ब्रोंज मेडल जीतने में कामयाब रहे। इसके बाद दूसरे स्थान पर वेटलिफ्टिंग प्रतियोगिता रहा। वेटलिफ्टिंग में भारत की झोली में कुल 10 मेडल आए। इसके बाद बॉक्सिंग रिंग में भी खिलाड़ियों ने धमाल मचाते हुए कुल 7 पदकों पर पंच लगाया।


अंतिम दिन पांच गोल्ड

शरत कमल ने पुरुष सिंगल्स टेबल टेनिस में दूसरी वरीयता प्राप्त लियाम पिचफोर्ड को 4-1 (11-13, 11-7, 11-2, 11-6, 11-8) को हराकर गोल्ड मेडल जीता। यह शरत का बर्मिंघम 2022 का तीसरा गोल्ड मेडल था। उन्होंने श्रीजा अकुला के साथ पुरुष टीम और मिक्स डबल्स भी जीता। साथियान गणानाशेखरन ने इंग्लैंड के पॉल ड्रिकहॉल से मैच जीतकर ब्रोंज मेडल जीता। बैडमिंटन में पीवी सिंधु ने कनाडा की मिशेल ली को 48 मिनट तक चले मुकाबले में सीधे गेम में 21-15, 21-13 से हराकर पहला गोल्ड मेडल अपने नाम किया। सिंधु कॉमनवेल्थ गेम्स में तीनों रंग गोल्ड, सिल्वर व ब्रोंज मेडल जीतने वाली पहली भारतीय महिला शटलर बन गई हैं।


भारत के सर्वोच्च रैंकिंग वाले बैडमिंटन खिलाड़ी लक्ष्य सेन ने मलेशिया के त्जे योंग को हराकर दिन का दूसरा गोल्ड मेडल हासिल किया। लक्ष्य ने त्जे योंग को 19-21, 21-9, 21-16 से हराया। सात्विक सांईराज रंकीरेड्डी-चिराग शेट्टी की शीर्ष भारतीय पुरुष जोड़ी ने बैडमिंटन की डबल्स स्पर्धा में लेन बेन और बेंडी सीन की इंग्लिश जोड़ी को 21-15, 21-13 से हराकर गोल्ड मेडल हासिल किया। भारतीय पुरुष हॉकी टीम को ऑस्ट्रेलिया ने 7-0 से हराकर गोल्ड मेडल जीता और इस तरह से भारत को सिल्वर मेडल से ही संतोष करना पड़ा।


पिछले गेम्स से पांच मेडल कम

वहीं टेबल टेनिस में भारतीय खिलाड़ियों ने कुल 7 पदक जीते, जबकि बैडमिंटन में भारत की झोली में कुल 6 मेडल आए हैं। इसके अलावा एथलेटिक्स में कुल आठ मेडल भारत की झोली में आए हैं। कॉमनवेल्थ गेम्स के इतिहास में देश पहली बार लॉन बॉल (एक गोल्ड, एक सिल्वर) में मेडल जीतने में कामयाब रहा। लॉन बॉल के अलावा पैरा लिफ्टिंग में एक, जूडो में तीन, हॉकी में दो, क्रिकेट में एक और स्क्वैश में भारत की झोली में दो मेडल आए। ऑस्ट्रेलिया के गोल्ड कोस्ट 2018 में हुए कॉमनवेल्थ गेम्स में भारत ने रिकॉर्ड 16 मेडल शूटिंग में जीते गए थे। इस बार शूटिंग को इस खेल को ही शामिल नहीं किया गया, जिसके कारण मेडल की संख्या कम हो गई।


दसवें दिन भी मिले थे पांच गोल्ड

दसवें दिन रविवार को वेटलिफ्टिंग और कुश्ती के बाद मुक्केबाजों निकहत जरीन, अमित पंघल और नीतू घंगास ने रविवार को तीन गोल्ड मेडल दिलाए तो सागत अहलावत को सिल्वर मेडल मिला। एल्धोस पॉल और अब्दुल्ला अबूबकर ने पुरुषों की ट्रिपल जंप प्रतियोगिता में भारत के लिए दो पोडियम स्थान हासिल कर क्रमशः गोल्ड और सिल्वर मेडल जीता। टेबल टेनिस में मिक्स डबल्स जोड़ी शरत कमल व श्रीजा अकुला ने गोल्ड मेडल दिलाया। पुरुष डबल्स में शरत कमल और साथियान गणानाशेखरन की जोड़ी ने सिल्वर जीता। 10वें दिन पांच गोल्ड मेडल मिले। महिला हॉकी टीम ने ब्रोंज अपने नाम किया। क्रिकेट में सिल्वर से संतोष करना पड़ा। पुरुष सिंगल्स स्पर्धा के ब्रोंज मेडल मुकाबले में किदांबी श्रीकांत ने सिंगापुर के खिलाड़ी जिया हेंग तेह को हराया। वहीं, 19 वर्षीय त्रिशा जॉली और गायत्री गोपीचंद ने महिला युगल में संयुक्त रूप से एक और ब्रोंज जीता।


भारत का अंक गणित

कुल मेडल जीते 61

गोल्ड 22

सिल्वर 16

ब्रोंज 23

भारत के कुल खिलाड़ी 207

पुरुषों ने जीते मेडल 35

महिलाओं को मेडल 26

कुश्ती में मेडल 12

वेटलिफ्टिंग में मेडल 10

एथलेटिक्स में मेडल 08

बॉक्सिंग में मेडल 07

टेबल टेनिस में मेडल 07

बैडमिंटन में मेडल 07

सबसे ज्यादा मेडल वाले खिलाड़ी शरत कमल (चार)


All Comments

No Comment Yet!!


Share Your Comment


टॉप न्यूज़