https://khulasafirst.com/images/8bccbd4349e5b69f665c43b6f89c41ff.jpg

Hindi News / indore / salutation-congratulation-thank you

वंदन-अभिनंदन-आभार : आप सबकी जय-जयकार

16-08-2022 : 03:14 pm ||

आप सभी का मैं वंदन करता हूं। 

सभी ज्येष्ठ और श्रेष्ठ का अभिनंदन करता हूं।

मन से, वचन से, कर्म से आपका आभार व्यक्त करता हूं।

आपका स्नेह-मेरे प्रति अटूट विश्वास पर नतमस्तक हूं।

आशुतोष भगवान महाकाल के श्रीचरणों में कोटि दंडवत प्रणाम करता हूं। 

भगवती मां अन्नपूर्णा की असीम कृपा पर बारंबार प्रणाम करता हूं।

प्रणाम करता हूं उन सब शुभचिंतकों को जिन्होंने इस पुण्य पवित्र सावन मास में भोले की भक्ति निमित्त आयोजित इस उत्सव में सहभागिता की। आयोजन की गरिमा बढ़ाई। हमारा मान बढ़ाया। आप सबकी उपस्थिति ने महीनेभर से ज्यादा चले इस धार्मिक-आध्यात्मिक अनुष्ठान को ऊंचाई दी।


मैं आभारी हूं उन सभी बंधुओं, माता-बहनों और युवाओं का जिन्होंने बड़ी संख्या में उपस्थिति दर्ज करवाकर शिव शंकर की प्रसादी का अलभ्य लाभ लिया। 


प्रणाम करता हूं उस तंत्र का भी जिसने एबी रोड जैसे व्यस्ततम मार्ग पर इस आयोजन के निमित्त व्यवस्थाएं बनाई और संभाली।


शासन-प्रशासन, पुलिस विभाग, नगर निगम के सभी अधिकारियों और कर्मचारियों को भी प्रणाम करता हूं जिनके आत्मीय सहयोग से ये अनुष्ठान गरिमामय स्वरूप में पूर्णत: को प्राप्त हुआ। 


हृदय से आभार और कृतज्ञता उन सभी जनप्रतिनिधियों के प्रति जिन्होंने अपने व्यस्त समय का एक बड़ा हिस्सा शिव स्तुति भक्ति के इस आयोजन में दिया। आप सबकी प्रत्यक्ष उपस्थिति ने इस आध्यात्मिक आयोजन की गरिमा को बढ़ाया। मनःपूर्वक आप सभी का आभार।


महीनेभर से ज्यादा चले इस अखंड भंडारा प्रसादी में प्रत्यक्ष व अप्रत्यक्ष सहयोग करने वाले सभी शुभचिंतकों को प्रणाम करता हूं। पूर्ण विश्वास भी व्यक्त करता हूं कि आपका ये अमूल्य सहयोग इस धार्मिक आयोजन को हर बरस यूं ही मिलता रहेगा।


आभार उन सब साथियों का भी जिन्होंने पूरी-पूरी रात जागकर व्यवस्थाओं में अमूल्य सहयोग दिया। जिन्होंने बड़े ही प्रेम से भक्तों को प्रसादी वितरण किया। आप सबके अनथक परिश्रम को प्रणाम करता हूं।


दंडवत प्रणाम उन सभी ब्रह्म बंधुओं, विप्रवरों, पंडितों, पुरोहित का जिन्होंने पूरे सावन माह में महादेव के अनुष्ठान के साथ अखंड रामायण की अलख जगाई। जिनके मुखारविंद से गूंजी रामायण की चौपाइयों ने वातावरण को पवित्र किया।


नतमस्तक हूं राजा महाकाल

आपकी इस असीम कृपा पर....

आपने मुझे निमित्त बनाया...

यूं ही कृपा बनाए रखना प्रभु...

शुभाशीष बनाए रखना भोलेनाथ...


सदैव आपका ही

अंकुर जायसवाल

(पक्का इंदौरी)


All Comments

weadare 02-09-2022
cialis order online Who is a Manufacturer


Share Your Comment


टॉप न्यूज़