https://khulasafirst.com/images/8bccbd4349e5b69f665c43b6f89c41ff.jpg

Hindi News / Sports / ranji-trophy-2022-baroda-player-vishnu-solanki-baroda-vs-chandigarh

विष्णु की दर्द भरी कहानी : बेटी के अंतिम संस्कार के बाद क्रिकेटर ने ठोका शतक

26-02-2022 : 06:57 pm ||

खुलासा फर्स्ट...नई दिल्ली। क्रिकेटर विष्णु सौलंकी के घर हाल ही में एक बेटी ने जन्म लिया था। जन्म के बाद बेटी का निधन हो गया। बड़ौदा के रणजी प्लेयर विष्णु सोलंकी ने फिर खिलाड़ियों के लिए एक नई मिसाल पेश की। विष्णु ने बेटी की मौत के दर्द के बीच रणजी मैच में शानदार शतक लगाया। वह बेटी का अंतिम संस्कार कर तीन दिन पहले ही मैदान पर लौटे थे। क्रिकेटर्स से लेकर आम जन तक उनके इस जज्बे को सलाम कर रहे हैं। चंडीगढ़ के खिलाफ शतक जड़ने के बाद विष्णु सोलंकी ने कोई जश्‍न भी नहीं मनाया। विष्णु ने 161 गेंदों पर 12 चौकों की मदद से नाबाद 103 रन बनाए। 


विष्णु सोलंकी को सलाम

हर कोई विष्णु सोलंकी की हिम्मत को सेल्‍यूट कर रहा है। सोशल मीडिया पर लगातार लोग उन्हें सलाम कर रहे हैं। सौराष्‍ट्र के विकेटकीपर बल्‍लेबाज शेल्‍डन जैक्‍सन ने ट्वीट कर विष्‍णु सोलंकी की तारीफ की और लिखा, मैं जितने खिलाड़ियों को जानता हूं शायद ही कोई इतना टफ प्लेयर हो....मेरी ओर से विष्णु और उनके परिवार को सलाम। मैं चाहूंगा कि अभी ऐसे और शतक उनके बल्ले से निकलते दिखें। दूसरी ओर बड़ौदा क्रिकेट एसोसिएशन ने उन्हें रियल हीरो बताया।


सचिन-विराट के साथ भी हुआ था ऐसा 

ऐसी घटना क्रिकेट में पहले भी हो चूकी है। 1999 वर्ल्ड कप के दौरान सचिन तेंदुलकर ने अपने पिता रमेश तेंदुलकर के निधन के तुरंत बाद शतक बनाया था। सचिन ने केन्या के खिलाफ 101 गेंदों पर 140 रन की पारी खेली थी। दूसरी ओर टीम इंडिया के दिग्गज खिलाड़ी विराट कोहली के साथ भी रणजी मैच में कुछ ऐसा ही हुआ था। विराट पिता के निधन के बावजूद मैदान पर बल्लेबाजी करने आए थे और बेहतरीन अर्धशतक लगाते हुए अपनी टीम को हार से बचाया। इसके बाद वे अपने पिता के अंतिम संस्कार में गए थे।



All Comments

No Comment Yet!!


Share Your Comment


टॉप न्यूज़