https://khulasafirst.com/images/8bccbd4349e5b69f665c43b6f89c41ff.jpg

Hindi News / sports / Indian women players are scattering the beauty of the game

खेल के साथ खूबसूरती का जलवा बिखर रहीं भारतीय महिला खिलाड़ी : कॉमनवेल्थ गेम्स : सिंधु की अगुआई में भारतीय दल ने लिया परेड में भाग

29-07-2022 : 05:15 pm ||

भारतीय दल के खिलाड़ी कॉमनवेल्थ गेम्स में किस्मत आजमाने के लिए बर्मिंघम पहुंच चुके हैं। बर्मिंघम पहुंची भारतीय टीम की 10 महिला खिलाड़ी ऐसी हैं जिन्होंने टूर्नामेंट शुरू होने से पहले खूबसूरती से सबको दीवाना बना दिया है।


बहुप्रतीक्षित कॉमनवेल्थ गेम्स की शुरुआत हो चुकी है। इस प्रतिष्ठित टूर्नामेंट में भारत का एक मजबूत दल भाग ले रहा है। देश को इस बार मुक्केबाजी, बैडमिंटन, भारोत्तोलन और कुश्ती में ज्यादा से ज्यादा मैडल आने की उम्मीद है। बर्मिंघम पहुंची देश की कई महिला खिलाड़ी अपने हुनर के साथ-साथ खूबसूरती से भी लोगों को दीवाना बना रही हैं। भारत के 213 खिलाड़ी 16 खेलों में भाग लेंगे। चार साल में एक बार आयोजित होने वाले इस इवेंट में भारत चार संस्करण (1930, 1950, 1962 और 1986) को छोड़कर सभी में शामिल रहा है। भारत ने अब तक कॉमनवेल्थ गेम्स में कुल 503 मैडल जीते हैं। इनमें से 350 मैडल उसने आखिरी 5 कॉमनवेल्थ गेम्स में हासिल किए।


पीवी सिंधु बनीं ध्वजवाहक

खेलों की शुरुआत परेड में जैसे ही भारतीय दल को आवाज दी गई पूरा स्टेडियम शोर से गूंज उठा। दर्शकों ने भारतीय खिलाड़ियों को जोरदार तरीके से स्वागत किया। ओपनिंग सेरेमनी में बैडमिंटन स्टार पीवी सिंधु और हॉकी टीम के कप्तान मनप्रीत सिंह भारत के ध्वजवाहक रहे। नीरज चोपड़ा के चोटिल होने के कारण पीवी सिंधु ध्वजवाहक बनीं। सिंधु दो बार की ओलिंपिक मेडलिस्ट हैं। उन्होंने 2016 रियो ओलिंपिक में बैडमिंटन में सिल्वर और टोक्यो ओलिंपिक में ब्रॉन्ज मेडल जीता था। ऑस्ट्रेलिया की टीम ने परेड की शुरुआत की। वहीं, मेजबान इंग्लैंड की एंट्री के साथ सभी देशों की परेड खत्म हुईं। इंग्लैंड की टीम लाल और सफेद रंग के कपड़ों में नजर आई।


हिमा दास

22 वर्षीय महिला धावक हिमा दास बर्मिंघम में अपना जलवा बिखरने के लिए तैयार हैं। युवा महिला खिलाड़ी के चाहने वालों की संख्या लाखों में है। अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कदम रखने के दो साल के अंदर ही हिमा दास ने कई मैडल जीते हैं।


दुती चंद

दो बार की ओलिंपियन और 100 मीटर राष्ट्रीय रिकॉर्ड धारक दुती चंद 2013 से भारतीय एथलेटिक्स के लिए अहम योगदान दे रही हैं। चंद को देख कई युवा खिलाड़ी देश के लिए रेस लगाने का सपना देख रहे हैं।


तानिया भाटिया

भारतीय महिला क्रिकेट टीम की 24 वर्षीय विकेटकीपर खिलाड़ी तानिया भाटिया बर्मिंघम में जलवा बिखेरने के लिए तैयार हैं। तानिया अपने खेल के हुनर के साथ-साथ अपने फैंस के दिलों पर भी राज करती हैं।


जेमिमा रोड्रिगेज

जेमिमा रोड्रिगेज भी खूबसूरती के मामले में किसी से कम नहीं हैं। उनके चाहने वालों की एक लंबी लिस्ट है। भारतीय महिला क्रिकेट टीम में उनका स्थान पक्का रहता है और उनकी भूमिका भी शानदार रहती है। सोशल मीडिया पर इनकी फैन फॉलोइंग भी जबर्दस्त है।


हरलीन देओल

क्रिकेट की यह खिलाड़ी खूबसूरती में सबको मात दे रही है। हरलीन देओल की लंबी फैन फॉलोइंग भी है, जो उन्हें और भी खास बनाती है। महिला क्रिकेट टीम की 24 वर्षीय क्रिकेटर हरलीन देओल अगर क्रिकेट के अलावा बॉलीवुड में होतीं तो वहां भी उनका सिक्का चल रहा होता। दरअसल, देओल के चाहने वालों की एक लंबी कतार है। वह खूबसूरती के मामले में कई बड़ी-बड़ी एक्ट्रेस को पीछे छोड़ती हैं।


स्मृति मंधाना

देश की 26 वर्षीय महिला खिलाड़ी स्मृति मंधाना बर्मिंघम में अपना जलवा बिखरने के लिए तैयार हैं। मंधाना भारतीय महिला क्रिकेट टीम में पारी की शुरुआत करती हैं। एक बार वह मैदान में सेट हो गईं तो हारी हुई बाजी को जिताने का दम रखती हैं। बता दें मंधाना क्रिकेट के अलावा देश में अपनी खूबसूरती के लिए भी विख्यात हैं। महिला खिलाड़ी के सोशल मीडिया पर लाखों फैन हैं।


पीवी सिंधु

देश की 27 वर्षीय बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधु अपनी खूबसूरती से बड़ी-बड़ी एक्ट्रेस को मात देती हैं। स्टार महिला खिलाड़ी को नीरज चोपड़ा की गैरमौजूदगी में कॉमनवेल्थ गेम्स की ओपनिंग सेरेमनी के लिए भारतीय दल का ध्वजवाहक भी बनाया गया है। वह बर्मिंघम में महिला एकल प्रतियोगिता में गोल्ड मैडल जीतने की भी प्रबल दावेदारों में एक हैं। उन्होंने गोल्ड कोस्ट और ग्लास्गो में पिछले दो चरण में क्रमश: सिल्वर और ब्रोंज मैडल जीते हैं। सिंधु गोल्ड कोस्ट में 2018 राष्ट्रमंडल खेलों में भी ध्वजवाहक थीं।


लवलीना बोरगोहेन

24 वर्षीय युवा मुक्केबाज लवलीना बोरगोहेन भी अपनी खूबसूरती से लाखों दिलों पर राज करती हैं। बोरगोहेन ने विजेंदर सिंह (बीजिंग 2008 में ब्रोंज) और मैरी कॉम (लंदन 2012 में ब्रोंज) के बाद ओलिंपिक में मैडल जीतने वाली तीसरी भारतीय मुक्केबाज हैं। उन्होंने टोक्यो 2020 में महिलाओं के 69 किग्रा वर्ग में ब्रांज मैडल जीतकर इतिहास रचा था।


मनिका बत्रा

कॉमनवेल्थ गेम्स की गोल्ड मैडल विजेता, दो बार की ओलिंपियन और कई अन्य उपलब्धियां हासिल करने वाली मनिका बत्रा भारतीय टेबल टेनिस की स्टार खिलाड़ियों में एक हैं। इस बार भी बर्मिंघम में उनसे मैडल की उम्मीद है। बता दें बत्रा अपनी खेल के साथ-साथ देश में अपनी खूबसूरती के लिए भी जानी जाती हैं। भारत में उनके चाहने वालों की संख्या लाखों में है।


विनेश फोगाट

भारतीय महिला पहलवान विनेश फोगाट का नाम देश के बच्चों की भी जुबान पर रहता है। वह अपने खेल के साथ-साथ खूबसूरती के लिए भी विख्यात हैं। दो बार की ओलिंपियन फोगाट को कॉमनवेल्थ गेम्स में दो गोल्ड और एशियाई खेलों में एक गोल्ड मैडल हासिल है। उन्हें 2019 में विश्व चैंपियनशिप ब्रोंज के अलावा 2021 में एशियाई चैंपियन का ताज पहनाया गया था।


All Comments

No Comment Yet!!


Share Your Comment


टॉप न्यूज़