https://khulasafirst.com/images/018b0c44750c0bcd6aa1df6cb8d422c9.png

Hindi News / state / Heavy rain in Amarnath Yatra halted

अमरनाथ में भारी बारिश, यात्रा रोकी : रक्षाबंधन तक चलेगी अमरनाथ यात्रा

27-07-2022 : 07:38 pm ||

श्रीनगर। एजेंसी

अमरनाथ में पवित्र गुफा के आसपास पहाड़ों पर मंगलवार को भारी बारिश हुई। इससे दोपहर करीब 3 बजे अमरनाथ गुफा के पास बने तालाबों और झरनों में बाढ़ आ गई। 8 जुलाई को भारी बारिश से आई बाढ़ जैसे हालात इस बार न बनें, इसलिए चार हजार से ज्यादा तीर्थयात्रियों को तुरंत बाहर निकाला गया। सभी को पंचतरणी भेजा गया है।


भगवती नगर बेस कैम्प से मंगलवार को 2100 तीर्थयात्रियों के साथ 26वां जत्था पवित्र गुफा के लिए रवाना हुआ था। इस साल किसी भी जत्थे में यह सबसे कम यात्री संख्या थी। सीआपीएफ की सुरक्षा में 73 गाड़ियों का काफिला रवाना हुआ था। इनमें 23 गाड़ियों में 815 तीर्थयात्री बालटाल के लिए और 49 गाड़ियों में 1 हजार 374 तीर्थयात्री पहलगाम के लिए निकले थे।गौरतलब है कि अमरनाथ गुफा के पास 8 जुलाई को बादल फटने से अचानक आई बाढ़ में 15 तीर्थयात्रियों की मौत हो गई थी। आधिकारिक जानकारी के अनुसार 29 जून से अब तक ढाई लाख से अधिक श्रद्धालु बाबा बफार्नी के दर्शन कर चुके हैं। बारिश के दौरान यात्रा में शामिल बुजुर्ग श्रद्धालुओं को उनके परिजन सहारा देकर सुरक्षित स्थानों पर ले गए। यात्रा में शामिल बुजुर्ग श्रद्धालुओं को उनके परिजन सहारा देकर सुरक्षित स्थानों पर ले गए।


बह गए थे दो से तीन लंगर

अमरनाथ गुफा के पास 8 जुलाई को शाम 5 बजकर 30 मिनट पर बादल फटा था। जिस समय बादल फटा, उस समय गुफा के पास 10 से 15 हजार श्रद्धालु मौजूद थे। पहाड़ों से तेज बहाव के साथ आए पानी से श्रद्धालुओं के लिए लगाए गए 25 टेंट और दो से तीन लंगर बह गए थे। बारिश से पूरे इलाके में तेजी से पानी भर गया, लिहाजा कई लोग इसकी चपेट में आ गए। आईटीबीपी ने 15 हजार लोगों का रेस्क्यू किया था।


रक्षाबंधन तक चलेगी अमरनाथ यात्रा

परंपरा के मुताबिक अमरनाथ यात्रा रक्षाबंधन तक जारी रहती है। इस साल श्रावण पूर्णिमा यानी रक्षाबंधन 11 अगस्त को है। इसी दिन तक श्रद्धालुओं को पवित्र गुफा तक जाने की अनुमति रहेगी। इसके बाद भारी बर्फबारी के चलते अगले साल तक इसे तीर्थयात्रियों के लिए बंद रखा जाएगा। हर साल यात्रा शुरू होने से पहले सेना और जम्मू-कश्मीर पुलिस पूरे रास्ते को सैनिटाइज करते हैं और श्रद्धालुओं के लिए जरूरी इंतजाम करते हैं। 



All Comments

No Comment Yet!!


Share Your Comment


टॉप न्यूज़