https://khulasafirst.com/images/eceb0ef7616e803d2e768e2be8e121f2.jpg

Hindi News / indore / Efforts to improve the environment after cleanliness

स्वच्छता के बाद पर्यावरण सुधार के प्रयास : इंदौर का सिरपुर तालाब भी बना रामसर साइट

04-08-2022 : 04:16 pm ||

खुलासा फर्स्ट… इंदौर

विश्व में हो रहे जलवायु असंतुलन और परिवर्तन को जानने और विश्व के पर्यावरण सुधार में बेहतर प्रयास के लिए रामसर साइट महत्वपूर्ण साबित हो रही है। इसके चलते केन्द्रीय वन एवं पर्यावरण मंत्रालय द्वारा सिरपुर तालाब को रामसर साइट घोषित किया गया है। इस तरह देशभर में रामसर साइट की संख्या 64 हो गई है। 


जानकारी के अनुसार इंदौर स्वच्छता में पांच बार नंबर वन का खिताब हासिल करने के बाद अब पर्यावरण सुधार के लिए प्रयास कर रहा है। इसके चलते शहर में लगातार पर्यावरण सुधार के प्रयास जारी है। ऐसे में सिरपुर तालाब को अहिल्या सरोवर बनाने की तैयारी भी शुरू हो गई है। इस बीच प्रदेश सरकार के प्रयास से सिरपुर तालाब को रामसर साइट घोषित कर दिया गया है। इस तरह साख्य सागर तालाब के बाद इंदौर के सिरपुर तालाब को मध्यप्रदेश का तीसरा रामसर साइट का दर्जा मिलने पर पर्यावरण मंत्री हरदीपसिंह डंग ने प्रदेशवासियों को बधाई दी है। डंग ने कहा कि यह ऐतिहासिक उपलब्धि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में पर्यावरण-संरक्षण के लगातार किए जा रहे प्रयासों के लिए केन्द्र शासन से मिली एक सशक्त पहचान है। मंत्री डंग ने सिरपुर तालाब को रामसर साइट का दर्जा प्रदान करने पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और केन्द्रीय पर्यावरण एवं वन मंत्री भूपेन्द्र यादव का आभार प्रकट किया। केन्द्रीय वन एवं पर्यावरण मंत्रालय द्वारा मध्यप्रदेश, ओडिशा, गोवा, तमिलनाडु और कर्नाटक के जल-स्थलों को रामसर साइट घोषित किया गया है। इनको मिलाकर देश में रामसर साइट की संख्या 64 हो गई है। विश्व में हो रहे जलवायु असंतुलन और परिवर्तन के दौर में रामसर साइट की भूमिका विश्व के पर्यावरण सुधार में अति महत्वपूर्ण है।


All Comments

No Comment Yet!!


Share Your Comment


टॉप न्यूज़