https://khulasafirst.com/images/8bccbd4349e5b69f665c43b6f89c41ff.jpg

Hindi News / sports / Clouds of crisis over India and South Africa T20 match

भारत और साउथ अफ्रीका टी-20 मैच पर छाए संकट के बादल : होलकर स्टेडियम में एमपी और शेष भारत के बीच होना है पांच दिवसीय मैच

31-07-2022 : 05:36 pm ||

पुनीत विजयवर्गीय । खुलासा फर्स्ट… इंदौर

होलकर स्टेडियम में 3 अक्टूबर को प्रस्तावित इंडिया-साउथ अफ्रीका टी-20 मैच पर संकट के बादल छा गए हैं। ईरानी ट्रॉफी की वजह से मैच निरस्त हो सकता है या फिर तारीख में बदलाव भी संभव है। हालांकि बीसीसीआई ने अभी तक आधिकारिक तौर पर शेड्यूल जारी नहीं किया है। दरअसल मध्य प्रदेश की टीम ने इस साल पहली बार रणजी ट्रॉफी जीती है और बीसीसीआई के शेड्यूल के अनुसार रणजी ट्रॉफी विजेता टीम का शेष भारत की टीम से पांच दिवसीय मैच ईरानी ट्रॉफी के तहत खेला जाता है। यह मैच 1 से 5 अक्टूबर तक होलकर स्टेडियम में खेला जाना प्रस्तावित है। ऐसे में 3 अक्टूबर को इंडिया और साउथ अफ्रीका के बीच खेले जाने वाले टी-20 मैच पर संकट खड़ा हो गया है। 


मध्य प्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन रणजी विजेता टीम के सम्मान में बड़ा समारोह का आयोजन करने वाला है। इस दौरान ही ईरानी ट्रॉफी का मध्य प्रदेश वर्सेस शेष इंडिया का मैच होना है। इसके लिए एमपीसीए के पदाधिकारी और एमपी टीम के खिलाड़ी उत्साहित भी हैं। सभी चाहते हैं कि ईरानी ट्रॉफी का मैच होलकर स्टेडियम में खेला जाए, लेकिन इसी दौरान इंडिया और साउथ अफ्रीका के बीच भी मैच खेला जाना है। ऐसे में अब एमपीसीए के पदाधिकारी पशोपेश में है। वें लगातार बीसीसीआई के पदाधिकारियों के संपर्क में हैं और उनसे गुहार लगा रहे हैं कि 3 अक्टूबर को होने वाले मैच को किसी अन्य वेन्यू से बदल दिया जाए, ताकि ईरानी ट्रॉफी का मैच भी होलकर स्टेडियम में खेला जा सके। इसके अलावा एमपीसीए के पदाधिकारी ईरानी ट्रॉफी के मैच को ग्वालियर शिफ्ट करने के बारे में भी विचार कर रहे हैं। दोनों मैच में तारीखों के टकराव को रोकने का हरसंभव प्रयास किया जा रहा है। पदाधिकारियों का प्रयास है कि दोनों मैच का आयोजन इंदौर में किया जा सके। यह भी जानकारी मिली है कि इंडिया वर्सेस साउथ अफ्रीका टी-20 मैच से ज्यादा रुचि एमपीसीए के पदाधिकारियों कि ईरानी ट्रॉफी का मैच करवाने में है। दोनों ही मैच से एमपीसीए को आर्थिक फायदा होगा, लेकिन टी-20 मैच से ज्यादा उनका फायदा ईरानी ट्रॉफी के मैच में होगा।


होलकर स्टेडियम में इंडिया का शत-प्रतिशत जीत का रिकॉर्ड है। क्रिकेट के प्रति इंदौरियों में दीवानगी भी बेमिसाल है। ऐसे में यह खबर इंदौर के क्रिकेट प्रेमियों के लिए निराशाजनक हो सकती है। एमपीसीए के पदाधिकारी कह रहे हैं कि अभी कोई शेड्यूल तय नहीं हुआ है, लेकिन खुलासा फर्स्ट के हाथ यह महत्वपूर्ण जानकारी एमपीसीए के सूत्रों के हवाले से लगी है। बीसीसीआई और एमपीसीए पदाधिकारियों के टकराव के चलते 24 अक्टूबर 2018 को इंडिया-वेस्टइंडीज वनडे मैच बड़ौदा शिफ्ट कर दिया गया था। उम्मीद है कि इस बार ऐसा कुछ ना हो और ढाई साल बाद एक बार फिर इंदौर के क्रिकेट प्रेमियों को इंटरनेशनल मैच का रोमांच देखने को मिले।


शेड्यूल तय नहीं हुआ

दोनों मैच को लेकर फिलहाल कोई शेड्यूल तय नहीं हुआ है। बीसीसीआई जैसा निर्देश देगी, हम वैसा करेंगे।

रोहित पंडित, सीईओ, एमपीसीए


All Comments

No Comment Yet!!


Share Your Comment


टॉप न्यूज़