https://khulasafirst.com/images/b5f3b175f01dc9f072438091e1fd3a40.png

Hindi News / indore / Ambulance did not reach President of Human Rights Rights Association taken to hospital

सिटी बस ने दो युवकों को रौंदा : एंबुलेंस नहीं पहुंची... मानवाधिकार अधिकार संघ के अध्यक्ष ले गए अस्पताल

24-05-2023 : 07:00 pm ||

खुलासा फर्स्ट… इंदौर

लसूड़िया थाना क्षेत्र में देर रात दो युवक सड़क दुर्घटना में गंभीर घायल हो गए। सूचना पर भी काफी देर एंबुलेंस नहीं पहुंची तो मानवाधिकार अधिकार संघ अध्यक्ष दोनों को अपनी कार से अस्पताल ले गए। समय रहते इलाज से दोनों खतरे से बाहर हैं।


कल रात देवास नाका-निपानिया मेन रोड़ पर बाइक सवार दो युवकों को पीछे आ रही सिटी बस ने रौंद दिया। घायलों को अस्पताल भिजवाने के बजाय ड्राइवर बस से उतरा और किसी को फोन लगाकर बात में लग गया। तभी वहां से मानवाधिकार अधिकार संघ के अध्यक्ष आशीष हिंदुजा का गुजरना हुआ। उन्होंने युवकों को खून से लथपथ देखा तो बस चालक को जमकर फटकारा। तत्काल एंबुलेंस को सूचना दी जो काफी देर तक नहीं पहुंची। इधर घायलों की हालत बिगड़ रही थी। यह देख उन्होंने खुद की गाड़ी में दोनों को लेकर बॉम्बे हॉस्पिटल पहुंचे।


पहले भी दुर्घटना में घायल की थी मदद

आशीष हिंदुजा हमेशा मदद के लिए तत्पर रहते हैं। पिछले दिनों भी उन्होंने दुर्घटना में गंभीर घायल एक युवक को निजी अस्पताल में भर्ती कराया था। अस्पताल प्रबंधन की मनमानी आशीष हिंदूजा के अनुसार अस्पताल ने भर्ती करने से इनकार कर दिया। इससे गुस्साए हिंदूजा ने अस्पताल प्रबंधन को फटकारते हुए परिचय दिया। तब कहीं आईसीयू में भर्ती किया। इसके बाद उन्होंने पुलिस कंट्रोल रुम को दुर्घटना की खबर दी।


लेकिन लसूड़िया पुलिस न मौके पर न अस्पताल पहुंची। बार-बार फोन करने पर विजय नगर थाने के एक एसआई हॉस्पिटल पहुंचे। हालांकि एक कदम आगे निकले। टक्कर मारने वाले बस चालक को थाने ले जाने के बजाय छोड़कर रवाना होने की जुगाड़ में लगे रहे। यह देख आशीष हिंदूजा और उनके साथी बस चालक को अपनी कार से थाने जाने लगे। एसआई ने उनसे बहस कर ड्राइवर को छोड़ने का दबाव बनाया और बस चालक को लेकर फुर्र हो गए। 



All Comments

No Comment Yet!!


Share Your Comment


टॉप न्यूज़